Home अपना नजरिया PNB Scam – Punjab National Bank मे हुआ सबसे बड़ा घोटाला

PNB Scam – Punjab National Bank मे हुआ सबसे बड़ा घोटाला

1 second read
0
0
353

11345 करोड़ का घोटाला कर नीरव मोदी ने पंजाब नेशनल बैंक के बैंकिंग सिस्टम की पोल ही खोल दी | पीएनबी घोटाला न सिर्फ एक बैंक के लिए खतरे की घंटी थी बल्कि यह तोह सभी अन्य बैंको के लिए खतरे की घंटी थी |

क्या है पीएनबी घोटाला?

साल 2010-11 में पंजाब नेशनल बैंक द्वारा व्यापारिओं के लिए कुछ लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (LoU) जारी किए गए थे | एलओयू देश के उन नामचीन व्यापारियों को जारी किए गए थे जिनकी शाखाएं विदेश में भी थी | इस सूची  में गीतांजलि, गिन्नी, नक्षत्र और नीरव मोदी शामिल थे |

केवल  इस एलओयू के आधार पर विदेश में स्थित भारतीय बैंकों की शाखाएं चंद ज्वेलर्स को अंधाधुंध लोन दिए जा रही थी | यह  लोन बांटने का आधार महज एलओयू था | नीरव मोदी ने अपना सारा लोन पंजाब नेशनल बैंक की एक शाखा से ही लिया था | एलओयू के आधार पर और भी कई बैंकों ने अंधाधुंध लोन बांटे थे जिसके चलते आजकल बैंकों की नींद उड़ी हुई है और वह तहकीकात कर रहे हैं |

किस तरह नीरव मोदी ने पीएनबी को धोका दिया?

नीरव मोदी ने साल 2018 के शुरुआत में ही विचार कर लिया था की वह ये देश छोड़ के जा रहे हैं | हो सकता है की उन्हें भनक लग गयी हो की उनके खिलाफ कार्यवाही की जा सकती है | उन्होंने जनवरी के महीने में ही अपने अधिकांश कार्य निपटा लिए और वह अमेरिका चले गए |

pnb scam neerav modi

माना जा रहा है कि पंजाब नेशनल बैंक के केवल 1700 करोड़ रुपए ही फंसे हैं | इसके अलावा नीरव मोदी ने भी अपने एक बयान में कहा था कि उस पर बेबुनियाद इतना ज्यादा कर्ज थोपा जा रहा है जबकि उसकी राशि इससे बहुत कम है | साथ ही नीरव मोदी की करीब 5700 करोड़ की संपत्ति जब्त की जा चुकी है |

क्या थी बैंक की गलती?

पीएनबी बैंक ने बिना किसी आधार के, बिना किसी सुरक्षा के नीरव मोदी जैसे कई बड़े व्यापारिओं को कर्ज दिया सिर्फ इसलिए की इतने बड़े व्यापारी तो लोन चूका ही देंगे | अगर ऐसी ही बात है तो यह प्रावधान आम लोगों के लिए भी लागु होना चाहिए | जहाँ आम लोगों को लोन लेने में कई दिन लगते हैं वहां नीरव मोदी को लोन देने में ज़रा भी वक़्त नहीं लगा | साथ ही सबसे बड़े दुःख की बात यह थी की साल 2016 में विजय माल्या भी बैंक घोटाला कर देश छोड़ चुके थे | उस घोटाले के बावजूद भी बैंकों ने एहतियात नहीं बरता |

Load More Related Articles
Load More By RPS
Load More In अपना नजरिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

पुलवामा हमला आतंकियों की कायरता का प्रतीक

14 फरवरी वैलेंटाइन डे के दिन CRPF के 40 जवान आतंकवादी हमले मे वीरगति को प्राप्त हुए और इस …