Home अपना नजरिया Facebook डाटा लीक

Facebook डाटा लीक

1 min read
0
0
155
facebook data leak

Facebook Data Leak केस में करीब 5 करोड़ फेसबुक उपयोगकर्ता का डाटा फेसबुक की जानकारी के अंतर्गत लीक हुआ | अगर भारतीयों की बात करें तोह करीब 5 लाख उपयोगकर्ता भारत से फेसबुक डाटा लीक का शिकार हुए थे | तो क्या है ये Facebook Data Leak Scandal? आईये जानते हैं –

क्या है Facebook Data Leak?

Facebook Data Leak में किसी ने चोरी से फेसबुक डाटा लीक नहीं किया  | इस मामले में कोई भी हैकर शामिल नहीं | दूसरी भाषा में हम ये कह सकते हैं की Facebook ने खुद अनुमति दी Facebook Users के डाटा Access की |

बात है साल 2014 की, जब Aleksandr kogan ने एक एप्लीकेशन बनाया जिसका नाम था –  “This is your Digital Life”. यह एक Quiz Application था, जिसे Kogan ने बनाया था फेसबुक पर | उस एप्लीकेशन को Downlaod किया करीब 2 लाख 70 हज़ार users ने | Application Install के बाद उन users ने अनुमति देदी उस एप्लीकेशन को अपना dat इस्तेमाल करने के लिए | परन्तु उस दिनों Facebook के API (Application Program Interface) में कुछ ऐसी गड़बड़ थी जिससे Kogan ना सिर्फ उन Users का डाटा Access कर पा रहे थे बल्कि उनके Friends का भी Data Kogan के पास था | तो Kogan के पास अब करीब 50 Million या फिर 5 करोड़ Facebook Users का Data था |

Aleksandr Kogan ने क्या किया Facebook Users के Data का?

Kogan ने Facebook Users का वो Data पैसे लेकर शेयर किया Cambridge Analytica के साथ | Cambridge Analytica  एक पोलिटिकल एडवरटाइजिंग फर्म है | Facebook Users के Data का इस्तेमाल करते हुए Cambridge Analytica ने अमेरिका के 2016 Elections में काफी ज्यादा मात्रा में Campaigns रन किये थे, अमेरिका के  मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) के लिए |

इसके अलावा Donald Trump की टीम ने 2016 के इलेक्शन से पहले एडवरटाइजिंग का जिम्मा भी Cambridge Analytica को ही दिया था |  उसने वो बखूबी निभाया और इसमें Facebook Data Leak ने बोहत मदद की |

दोस्तों ऐसा पहली बार नहीं था की Facebook Users के Data का इस्तेमाल करके मार्केटिंग की गयी हो परन्तु इस बार जिन Facebook Users का Data Leak हुआ था उनको पता ही नहीं था की उनका Data Access कोई और भी कर रहा है |

facebookdataleak

क्या Facebook नहीं जनता था इस बारे में?

जी हाँ दोस्तों, Facebook को साल 2015 में ही इस बारे में पता चल गया था की करीब 5 करोड़ Facebook Users का डाटा Kogan के ज़रिये Cambridge Analytica इस्तेमाल कर रहा है | Facebook इस बात से ज़रा भी अनजान नहीं था | और यह जानते हुए भी Facebook ने इस पर कोई ठोस कदम नहीं उठाया, केवल Kogan और Cambrige Analytica से गुज़ारिश की वो Facebook Users का डाटा डिलीट कर दें | जिसको Kogan और Cambridge Analytica ने महज़ एक मज़ाक समझा |

इस पर Mark Zuckerberg ने क्या कहा?

Mark Zukcerberg ने अपनी गलती को मानते हुए कहा की जो पहले Facebook API में बहुत बड़ी गड़बड़ी थी उसे बहुत पहले ही ठीक कर दिया गया है | साथ उन्होंने कहा है Facebook API को अब और भी सुरक्षित बनाया जा रहा है ताकि इस तरह की गलती दोबारा न हों |

साथ ही उन्होंने कहा की ये उनकी ज़िम्मेदारी है की वह Facebook Users के Data को सुरक्षित किया जाये और अगर वह ऐसा नहीं कर पते हैं तो उन्हें कोई हक़ नहीं अपने Users को Facebook की सुविधा प्रदान करने का |

हाल ही में खबर मिली है Facebook भी Blockchain Technology का इस्तिमाल कर सकती है अपने Facebook Users को Secure करने के लिए |

Load More Related Articles
Load More By RPS
Load More In अपना नजरिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

पुलवामा हमला आतंकियों की कायरता का प्रतीक

14 फरवरी वैलेंटाइन डे के दिन CRPF के 40 जवान आतंकवादी हमले मे वीरगति को प्राप्त हुए और इस …